Dil ki aawaz…


दिल कि आवाज़ को इज़हार केहते हैं,
झुकी नज़र को इकरार केहते हैं,
सिर्फ पाने का नाम इश्क़ नहीं,
कुछ खोने को भी प्यार कहती हैं

Dhadkata hai dil bus…


आँखो की चमक पलकों की शान हो तुम,
चेहरे की हँसी लबों की मुस्कान हो तुम,
धड़कता है दिल बस तुम्हारी आरज़ू मे,
फिर कैसे ना कहूँ मेरी जान हो तुम।

Nazre karam mujh pe itna na kar…


नज़रे करम मुझ पर इतना न कर,
की तेरी मोहब्बत के लिए बागी हो जाऊं,
मुझे इतना न पिला इश्क़-ए-जाम की,
मैं इश्क़ के जहर का आदि हो जाऊं।

Khushboo bankar teri saanso me…


खुशबू बनकर तेरी साँसों में शमा जायेंगे,
सुकून बनकर तेरे दिल में उतर जायेंगे,
महसूस करने की कोशिश तो कीजिये एक बार,
दूर रहते हुए भी पास नजर आएंगे।